The Benefits of Backlinks SEO for Improving Page Quality

Sharing is caring!

backlink kaise banaye in 2019

Backlinks का यूज़ करने से पहले, यह जानना चाहिए यह क्या होता है? दरअसल एक वेबसाइट से दुसरे में जाने के लिए बने रास्ते को Backlink कहा जाता है और यहाँ यह भी जरुरी हो जाता है आखिर एक वेबसाइट से दुसरे वेबसाइट में जाने के लिए रास्ता कैसा बनाया जाता है तथा यह किस तरह से काम करता है.”

तो चलिए इस बारे में विस्तार से बात करते है कि यह किस तरह का होगा और यह कैसे काम करेगा किसी वेबसाइट या ब्लॉग को गूगल में फर्स्ट पेज, फर्स्ट row में प्लेस करने के लिए.

What a Backlink Really works in Page Ranking 2019

बेकलिंक्स Off Page SEO के अंतर्गत आता है, पिछली पोस्ट में, मैंने On Page SEO के बारे में बताया था और अब इस बारे में बताऊंगा.

जब किसी पोस्ट को पब्लिश कर दिया जाता है तब ओन पेज seo का काम खत्म हो जाता है और इसके बाद काम आता है ऑफ पेज seo का. इस seo सेटिंग्स के अन्दर बेकलिंक, शेयरिंग, गेस्ट पोस्टिंग, पेड एड्स आता है. इन सबका एक ही काम है किसी वेबसाइट को गूगल में higher ranking प्रदान करना.

तो जानते है यह कैसे बनता है. पहले स्थिति में मान लीजिये आपने अपने लिए एक नया ब्लॉग बनाया, मेरे ही ब्लॉग का उदहारण लेते है. मेरा ब्लॉग https://www.broodhome.com है जिसे में 1 सितम्बर को लांच किया है. आप किसी और ब्लॉग में जाते है और उसके किसी पोस्ट पर इस तरह का कमेंट करते है

Very Nice Post.

https://www.broodhome.com

यहाँ पर दो पॉइंट पकड़ सकते हैपहला कमेंट और उसके नीचे का url. पहला तो आपने उस पोस्ट में एक कमेंट किया है जिससे उस ब्लॉग को कुछ फायदा हो सकता है और दूसरा यूआरएल से आपको ही फायदा होगा.

अब दुसरे स्थिति में चलते है एक और विजिटर उसी ब्लॉग पर आया जिसपर आपने अभीअभी एक कमेंट किया है.

वह भी उसी पोस्ट को देखता है जिसपर आपने कमेंट किया है. वह नीचे की तरफ स्क्रॉल करते हुए आपके कमेंट में एक यूआरएल को देखता है और उसे खोल लेता है done यही से एक रास्ता बना आपके साईट में जाने के लिए.

What’s Do-follow and Now follow link?

यह दो साईट और ब्लॉग के बीच बेकलिंक एक्सचेंज है, जब आपके ब्लॉग को कोई फॉलो करने लगे तो इसे Do-Follow कहते है और जब आप उसे फॉलो करने लगे तो इसे Now Follow कहते है.

इस तरह के एक्सचेंज से किसी भी ब्लॉग का रैंकिंग बहुत तेजी से सुधरता है और इसके कारण ब्लॉग के बेकलिंक की संख्या तेजी से बढती है.

Where you can get links?

जैसा की मैंने पहले ही पता दिया कि किसी ब्लॉग में यूआरएल के साथ कमेंट करने पर बेकलिंक बनाया जा सकता है. इसके अलावा भी और बहुत से तरीके है जहाँ से अपने ब्लॉग के लिए बेकलिंक बनाया जाता है

  • किसी वेब डायरेक्टरी में ब्लॉग को सबमिट करना.

  • सोशल मीडिया साईट में शेयर करना.

  • पेड सर्विस साईट से बेकलिंक खरीदना.

  • किसी वेब डायरेक्टरी में ब्लॉग को सबमिट करना.

ब्लॉग का इंटरनल लिंक को बढ़ाने के लिए इसे किसी डायरेक्टरी वेबसाइट पर सबमिट किया जा सकता है और इससे बहुत फायदा भी होता है.

पर यहाँ एक बात ध्यान देने वाला है सर्विस साईट पेज रैंक अच्छा हो और साथ ही जिस टॉपिक्स के अन्दर अपने ब्लॉग को सबमिट कर रहे है, वह आपके वेबसाइट या ब्लॉग के niche से मैच करता हो.

मसलन अगर आप किसी एक टॉपिक को कवर करके पोस्ट लिखते है ,तब अपने से रिलेटेड टॉपिक को choose करके ही सबमिशन करना चाहिए.

इसे ऐसे समझे आपके ब्लॉग का कंटेंट ट्रेवल है, मतलब आप बस travelling से सम्बंधित ही पोस्ट लिखते है, तो सबमिट करते समय इसमें travel या travelling टॉपिक को खोज करके उसे सेलेक्ट करना और नहीं मिले तो सबमिट नहीं करना चाहिए.

अन्यथा इससे ब्लॉग के बेकलिंक का क्वांटिटी तो बढ़ जायेगा पर क्वालिटी नहीं बढ़ने के वजह से ब्लॉग रैंक पर हिट होगा और आपके ब्लॉग का बैंड बज जायेगा.

बात यह ही की गूगल ने अभी तक बहुत से अल्गोरिथ को लांच किया है जो किसी भी पेज को रैंकिंग और maintenance का काम करता है.

अभी Panda और Penguin को अपडेट किया गया है जहाँ Panda Off Page SEO को पसंद करता है, वहीँ Penguin On Page SEO को.

पर अगर panda को खुश करने के लिए ज्यादासेज्यादा लिंक बनायेगे इससे वह तो खुश हो जायेगा, पर Penguin नाराज, वहीँ Penguin को खुश किया जाये तो दोनों खुश रहेगा.

  • सोशल मीडिया साईट में शेयर करना.

इस पर ब्लॉग या नए पोस्ट को शेयर करके अच्छे क्वालिटी का लिंक बनाया जा सकता है, साथ ज्यादा संख्या में इंटरनल लिंक को भी बढाया जा सकता है.

हम जानते है सोशल मीडिया बहुत ही पोपुलर है चाहे वह Facebook, Twitter, या YouTube हो और इसका पेज रैंक बहुत ही हाई है इसलिए यहाँ से बने लिंक हाई क्वालिटी का ही होता है. आपके ब्लॉग का अच्छा लिंक बनाने में YouTube और Facebook बहुत ही मदद कर सकता है.

  • पेड सर्विस साईट से बेकलिंक खरीदना.

Before Penguin अपडेट इस तरह के सर्विस लेने बहुत ठीक था पर अब यह पालिसी के खिलाफ है, तो मैं इसे बस इनकार करने के लिए ही बताया है. जल्दीजल्दी ब्लॉग को हिट करने के लिए इसे कभी भी न ख़रीदे वरना आगे चलकर कोई नया अपडेट आयेगा और आप पिटे जायेगे.

How to Differs in between CF and TF?

यह दोनों SEO का टर्म है. CF, Citation Flow है और TF, Trust Flow. बेकलिंक बनाने के दौरान यह दोनों ही increase होता है, Citation Flow जहाँ बैकक्लिंक सिर्फ नंबर को शो करता है वहीँ Trust Flow अच्छे क्वालिटी वाले लिंक को show करता है, इसलिए इन दोनों का बैलेंस ठीक होना जरुरी है.

अगर TF 0 है और CF 20 है तो यह आपके ब्लॉग को कभी भी Destroy कर सकता है, पर यह दोनों बराबर है या दोनों में ज्यादा का डिफरेंट नहीं है तो आपका ब्लॉग जल्दी ही ग्रो करेगा.

पर यहाँ सोचने वाली बात है आप 20-30 डायरेक्टरी वेबसाइट में ब्लॉग सबमिट करते है , तो जल्दी ही CF 5-6 मिल जाता है, पर TF मिलता ही नहीं है. तो इसलिए हमेशा कोशिश होनी यह चाहिए कि मैं Trust Flow को बढ़ाने के लिए ही प्रयास करूँ, बस 10-15 मिलने से ही ब्लॉग लगभग कमाई देने लायक बन जायेगा.

Removing Bad Link.

गलती से बहुत सारा Bad Backlink बन गया है, तो इसमें घबराने की कोई जरुरत नहीं, इसे Google Disallow Tool से दूर किया जा सकता है. आपने नया bad लिंक बनाया है, तो इसे जल्दी से दूर करे, पर अगर इसके कारण ब्लॉग का रैंक ख़त्म हो गया है, जल्दी से सारे लिंक को हटा करके दोबारा indexing के google को एप्लीकेशन भेजा जा सकता है.

सबसे पहले तो यह जानना है कितना backlink बना है अब तक, इसके लिए www.ahrefs.com सर्विस साईट का सहारा लिया जा सकता है.

इस साईट का एक स्क्रीनशॉट भी दिया जा रहा है.

ahrefs vs semrush

ahrefs seo site
this site is free and also paid plan if you need more seo service than choose always paid plan.

इस साईट पर अपने साईट का एड्रेस पेस्ट कर देख सकते है, किस वेबसाइट का backlink बना है, इस DA और् PA दोनों देख सकते है. यह दोनों ही बहुत कम है या नहीं है तो इसका मतलब है आपके ब्लॉग का लिंक bad क्वालिटी का है.

हर वह लिंक जिसे आप remove करना चाहते है, उसका एक filename.txt बना ले और उसमे सारा लिंक को पेस्ट कर सेव कर ले.

जानते है Google Disallow Tool से कैसे इसे रिमूव किया जा सकता है

  • सबसे पहले Google Disallow Tool को सर्च करे, इसका वेबलिंक आपको टॉप पेज में ही दिख जायेगा, बस इसपर क्लिक करे और इसके पेज तक पहुँच जाएँ.

  • अन्दर आपको एक पेज मिलेगा जहाँ आपके साईट यूआरएल पहले से ही show करेगा और उसके बगल में एक Disallow Links बटन भी होगा, उस पर क्लिक करके नेक्स्ट पेज पर जाए.

  • आगे भी एक Disallow Links मिलेगा, जिसपर क्लिक करने पर एक txt extension वाला फाइल अपलोड करने के लिए आपको कहा जायेगा, बस अपलोड करे submit कर दे और लगभग 24 घंटे का इंतजार करे.

    निचे हर स्टेप का स्क्रीन शॉट दिया जा रहा है.

google disallow link

google disallow robot txt

google disallow user agent
Important information for google disallow tool how to use and where manage this tool

google disallow

निष्कर्ष तो आपको यह पोस्ट कैसा लगा, हमें कमेंट करके जरुर बताये. हर अगर आप चाहे तो इसे शेयर और सब्सक्राइब भी कर सकते है.

पढ़ने के लिए धन्यवाद


Saroj Alam

हलो, मैं सरोज आलम, www.broodhome.com का चीफ एडिटर और फाउंडर। As a beginners मैं परेशान था, आखिर मैं किस टॉपिक पर ब्लॉग लिखूं, पर लिखते लिखते आखिर में सही जगह पहुंच ही गया। इस ब्लॉग पर में खिचड़ी नहीं परोसना चाहता हूं, इसलिए बस Blogging, Money Making आइडिया और Hosting से जुड़े पोस्ट ही पब्लिश करना पसंद करता हूं। I'm not perfect, but try to gives you best Today & Tommorow.

Sharing is caring!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: