Some Best Editor for Post and Page editing in WordPress.

Sharing is caring!

तो आज हम बात करने जा रहे है best editing plugin जिनका इस्तेमाल हम अपने पेज एंड पोस्ट को modified करने के लिए करते है.

वैसे तो wordpress में एक-से-एक editing प्लगइन का भरमार है, पर सब कभी भी अच्छे नहीं हो सकते है क्योंकि सबको अलग-अलग तरह सॉफ्टवेर इस्तेमाल करना पसंद है, पर कुछ ऐसे भी प्लगइन है जिसे ज्यादतर वेबसाइट डेवलपर और ब्लॉगर इस्तेमाल करते है.

वर्डप्रेस में inbuilt, Gutenburg पोस्ट एडिटर इनस्टॉल रहता है, जो बहुत अच्छा है, पर मैंने पहले ही कहा है सभी सब को पसंद नहीं आता है.

ठीक उसी तरह इसकी भी कुछ खासियत है, और कुछ समस्या भी. ज्यादातर ब्लॉगर इसे disable कर देते है. जब भी आप इसी एडिटर का इस्तेमाल करते है, तो दो पैराग्राफ के बीच अच्छा space add हो जाता है, जिससे पोस्ट को पढने में good feel होता है. साथ ही इसमें font size को small, middle, और large केटेगरी के अनुसार चुन सकते और अपने सुविधानुसार font को adjust कर सकते है और साथ ही font साइज़ function का भी इस्तेमाल कर सकते है.

पर इसमें एक समय यह है कि font साइज़ फंक्शन का इस्तेमाल करके आप heading और paragraph का साइज़ change तो कर सकते है, पर bullet इस्तेमाल किया गए का नहीं, इसे change करने के लिए html या css कोड का इस्तेमाल करना पड़ता है. इससे बुलेट और पैराग्राफ के साइज़ में differ पड़ जाता है, जो बिलकुल भी सही नहीं है. कोई यूजर इस तरह का बढ़िया पोस्ट पोस्ट इस demerit के वजह से पढना पसंद नहीं करेगा.

इसलिए मैंने इसे किसी और से switch कर दिया है.

अब आते है कुछ चुनिदा प्लगइन पर जो इस एडिटर कि जगह ले सके.

1 TinyMCE Editor

हाल ही तक इसे मैंने इस्तेमाल किया और काफी पसंद भी किया है, पर अब मैंने uninstall कर दिया है. इसका सबसे पड़ा पक्ष है, आप अपने पोस्ट को किसी तरह से यहाँ एडिट कर सकते है. जैसे font साइज़ के इस्तेमाल से bullet को भी एडिट कर सकते है, font family के collection में से अपने पसंद का कोई भी यूज़ कर सकते है.

इसका सबसे बड़ा खासियत है अगर आपने अब तक microsoft word या google doc इस्तेमाल किया है, तो आपको यह भी पसंद आएगा, क्योंकि इसका interface और tool कलेक्शन ठीक इसी तरह का है.

यह वर्डप्रेस के किसी भी version को support करता है और installation के दरम्यान और एडीटिंग करते समय किसी तरह का टेक्निकल issue इसमें occur नहीं होता है.

इसलिए अगर आप किसी एडिटर के खोज में है, तो इसे एक बार जरुर इस्तेमाल करे.

2 Elementor

यह tinymce से बिलकुल हट कर, क्योंकि यह drag and drop को support करता है. किसी भी तरह के पोस्ट को एडिट करना हो या कोई इमेज फाइल जोड़ना हो, यह सब काम ड्रैग & ड्राप का इस्तेमाल करके ही होगा.

आपको जिस जगह भी किसी text file जोड़ना है या इमेज file, tool baar इसे इसे क्लिक करे और उस जगह लाकर छोड़ दे, जहाँ इस्तेमाल करना चाह रहे है.

इसके अलावा यह कुछ फॉर्मेट जो फ्री और प्रीमियम दोनों होता है, उपलब्ध करवाता है, जिसे add करके अपने पोस्ट को एडिट कर सकते है.

अब आते है इसके demerit पर. एलेमेन्टर बहुत हेवी है इसके लिए आपके पास heavy डिवाइसेस होना चाहिए. इसे मोबाइल में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है और पुराने कंप्यूटर पर तो यह काम करना बंद कर देता है. इसके अलावा यह बहुत internet data consume करता है.

अगर आपके पास इसको संभल पाने वाला कंप्यूटर है, तभी इसे इनस्टॉल करे नहीं तो कोई text एडिटर ही इस्तेमाल करे.

3 Rich Text Editor

फिलहाल यह प्लग इन wordpress.com से हटा दिया गया है, पर अभी यह wordpress.org पर मौजूद है.

यह आपको windows के wordpad का याद दिलाएगा. अगर आप कोई बेहद सिंपल और अच्छा एडिटर कि तलाश में है तो इसे जरुर try करे.

वैसे मैंने इसे अब तक उपयोग नहीं किया है, तो इसके बारे में ज्यादा लिखना बकवास होगा. मैंने इस प्लगइन का स्क्रीनशॉट देखा है उसी के आधार पर इसे describe कर रहा हूँ.

अगर आपको यह नहीं पता कि कैसे किसी प्लगइन को अपलोड करके इनस्टॉल करे, तो आप मेरे इस पोस्ट को जरुर पढ़े.

How to install plugins in WordPress Site? (वर्डप्रेस में कैसे एक प्लगइन को सेटअप करे)

4 Classic Editor

अभी में इसी का इस्तेमाल कर रहा हूँ, और अभी यह सबसे बड़ा पसंद बना हुआ है. क्यों? अभी में बता रहा हूँ.

अभी तक मैंने जितना एडीटोर प्रयोग किया है, सब के font design और साइज़ से संतुष्ट नहीं हुआ हूँ, पर बार किसी एडिटर ने मेरे इस कमी को पूरा किया है.

यह लैपटॉप या डेस्कटॉप पर कुछ ख़ास तो नहीं दिखता है, पर मोबाइल फ़ोन के लिए perfect है. ऐसा लगता है यह मोबाइल के लिए ही बना है क्योंकि यह मोबाइल interface पर एकदम परफेक्ट बैठता है.

पर इसका भी कुछ गलत पक्ष है, मोबाइल पर font साइज़ change करने का आप्शन देखने का बहुत कोशिश किये, पर वह नहीं मिला. इसलिए custom फॉन्ट के लिए यह सही नहीं है.

इसके अलावा कलर को भी चेंज करने का ऑप्शन नहीं मिला, न ही font फॅमिली को मॉडिफाइड करना का.

तो इस तरह यह वह वजह है जिसके वजह से इसे आप कुछ दिनों में uninstall कर सकते है.

Conclusion

इसके अलावा और भी प्लुगिंस है जिसको आप प्लुगिंस स्टोर से डाउनलोड कर सकते है. जैसे Beaver जो एलेमेन्टर के तरह ही drag and drop feature को support करता है.

इसके बारे में भी में अच्छा review पढ़ा है, इसलिए एक बाद इसे भी इनस्टॉल किया जा सकता है.

अब अंत में बस वही बात जो में हर बार किसी भी पोस्ट लास्ट में बोलता हूँ, कैसा लगा मेरा पोस्ट हमें कमेंट करके जरुर बताये. अगर आपके पास भी दिए गए प्लगइन के बारे में कोई अच्छा मेरिट या demerit है, तो हमें कमेंट करके जरुर बताये, मैं इसे जरुर इस पोस्ट में जोड़ दूंगा.

इस ब्लॉग को अपने सोशल connection में ज्यादा-से-ज्यादा शेयर करे और इसे लाइक भी करे तथा सब्सक्राइब जरुर करे, क्या पता आप मेरे ब्लॉग का वेब एड्रेस ही भूल जाए.

तो मिलते है अगले पोस्ट में ब्लॉग्गिंग और मनी मेकिंग आईडिया के साथ.


Saroj Alam

हलो, मैं सरोज आलम, www.broodhome.com का चीफ एडिटर और फाउंडर। As a beginners मैं परेशान था, आखिर मैं किस टॉपिक पर ब्लॉग लिखूं, पर लिखते लिखते आखिर में सही जगह पहुंच ही गया। इस ब्लॉग पर में खिचड़ी नहीं परोसना चाहता हूं, इसलिए बस Blogging, Money Making आइडिया और Hosting से जुड़े पोस्ट ही पब्लिश करना पसंद करता हूं। I'm not perfect, but try to gives you best Today & Tommorow.

Sharing is caring!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: