How to Speed Up Blog in WordPress 2019

Sharing is caring!

जैसा कि सभी जानते है तेज स्पीड वाले इंटरनेट सभी को पसंद आते है, भले ही वह दिन के बारह बजे वह उठता हो, पर चाहता है कि उसका इंटरनेट कभी ना सोए।

ठीक उसी प्रकार अगर आपका ब्लॉग या वेबसाइट स्लो है, गूगल इसे कभी नहीं पसंद करेगा। इसलिए आपको चाहिए कि अपने वेबसाइट को सुपरफास्ट बरकरार रखे।

हां, पर आसान नहीं है क्योंकि कुछ गलतियां हम करते है और कुछ समय। ऐसे में खुद को दोष देकर समय के दौरान कि गई गलतियों को हमे सुधारना चाहिए।

ऐसे में आपको कुछ टिप्स देने जा रहा हूं, जिससे आप यह जान पाएंगे कि क्यों आपका ब्लॉग चल रहा है।

तो हो जाएं ready फिर destroy slow problem

Domain and Hosting

जहां तक सवाल है डोमेन का यह बस ब्लॉग को रैंकिंग को high करने के लिए होता है, इनका स्लो होने में कोई योगदान शायद नहीं है, पर होस्टिंग का पूरा है। ऐसे में आपको को बेहतर स्पीड वाले होस्टिंग साइट को ही अपने लिए hire करना चाहिए, कुछ रुपए बचाने के लिए गलत होस्ट का चुनाव बेवकूफी है।

सबसे पहले तो होस्टिंग को सही तरीके से समझने जरूरी है, किसी भी तरह के प्लान लेने से तो आपका काम तो चल ही जाएगा, पर यह उस तरह का परफॉर्म नहीं करेगा जिसका आपने सोचा है। क्या होगा अगर किसी किराने दुकान को पान दुकान वाले साइज की जगह में खोल लिया जाए।

होगा क्या नमक आपका रोड पर आप जेल के अंदर रहेंगे। ऐसे आपको चाहिए बड़ा जगह जो किसी किराने स्टोर के लिए फिट हो।

होस्टिंग लेने से पहले आपको चाहिए आप क्या करना चाहते है – वेबसाइट या ब्लॉग। क्योंकि दोनों की रिक्वायरमेंट अलग है। Website के लिए आप ज्यादा hard disk space और ram चाहिए, पर ब्लॉग के लिए कम से से भी आपका काम चल जाएगा। वेबसाइट में आप बहुत ज्यादा इन्फॉर्मेशन को स्टोर करना पड़ता है। जैसे यूजर का रजिस्ट्रेशन डिटेल्स, high क्वालिटी वाले मीडिया फाइल को अपलोड करने की जरूरत पड़ जाती है, पर ब्लॉग में ज्यादा कुछ नहीं करना पड़ता है, बस आपको अपने कंटेंट को ही सेव रखना पड़ता है।

इसका यह मतलब नहीं कि कोई सा भी होस्ट ले लिया जाए। मैं इसके लिए WordPress.com और WordPress.org को ही recommend करूंगा। WordPress के Bluehost cheap एंड बेस्ट है, इसके अलावा Dreamhost, Sitegourd, Hostgator, A2Hosting भी लिया जा सकता है।

Wordoress के लिए sharehosting के बजाए manage hosting लेना सही रहेगा, हालांकि इसका कॉस्ट ज्यादा है something $20 per month। इसमें ज्यादा हार्डडिस्क और ram मिलता है, साथ ही बेहतर सपोर्ट टीम हमेशा उपलब्ध रहता है।

Manage hosting के लिए Kinsta.com और WpEngine.com एक दम परफेक्ट है।

Theme Selection

स्पीड के लिए थीम भी बहुत बड़ा फैक्टर है। हैवी और ज्यादा ताम-झाम वाले थीम को चुनने से वेबसाइट स्लो हो जाता है। इसके स्थान पर लाइटवेट थीम को ही चुनना चाहिए।

वर्डप्रेस में generatepress थीम बहुत ही स्पीड से काम करता है और साथ ही यह हर device को सपोर्ट करता है। इसमें आपको किसी तरह का cookie page नहीं बनाना पड़ता है, यह ऑटोमैटिकली जोड़ देता है।

Header and Footer

ब्लॉग या वेबसाइट में हेडिंग और फूटर में किसी तरह का इमेज को जोड़ने बजाए बस फ़ॉन्ट और कलर पेज ही चुनने से पेज फास्ट लोडिंग होता है। इमेज के वजह से लोडिंग स्पीड कम जाती है।

Post background में भी कोई इमेज फाइल नहीं होना चाहिए।

Plugins

ज्यादा प्लगइन को वर्डप्रेस में इंस्टॉल करके रखने से भी कोई फायदा नहीं है। बस उसी को रखे जिसका इस्तेमाल करते है, उसको नहीं रखे जिसको बाद में यूजफुल लगता है। अगर कोई प्लगइन लग रहा है कि भविष्य में इसका उपयोग हो सकता है, तो उसे किसी ऑफलाइन डॉक्यूमेंट या डायरी में लिख कर रख सकते है।

कुछ लोग दिन भर प्लगइन के साथ experiment करते रहते है। इंस्टाल करते और छोड़ देते है। आपको चाहिए उसे पूरी तरह से डिलीट कर सिस्टम से बाहर कर दे। Bin Folder में भी नहीं रखना सही है, बेवजह स्पेस यूज करेगा।

वेबसाइट के स्पीड को बढ़ाने के लिए Cache Plugin या Ninja Speed को इंस्टॉल कर लेना चाहिए। निंजा speed प्लगइन तो इतना कमाल है कि, यह किसी भी हैवी थीम वाले वेबसाइट को बिल्कुल typography थीम में convert कर देता है।

प्लगइन क्या होता है और कैसे इसे इंस्टॉल करते है। इसके लिए नीचे दिए गए पोस्ट को पढ़े।

How to Install Plugin in WordPress

Optimize Image and Video File Format

ज्यादा high resolution वाले मीडिया फाइल को किसी पोस्ट में जगह देने से भी लोडिंग स्पीड पर फर्क पड़ता है। इसलिए फाइल साइज sufficient होना चाहिए। ना ज्यादा हाई हो ना ज्यादा लो बस मीडियम लेवल का हो। Jpg या Png फाइल फॉर्मेट को web फॉर्मेट में बदलने से साइज बहुत कम हो जाता है, पर resolution में कोई ज्यादा अंतर नहीं रह जाता है। काम को wordpress प्लगइन के इस्तेमाल से भी कर सकते है।

यह प्लगइन किसी भी तरह के फाइल फॉर्मेट को वेब फॉर्मेट में बदल देता है। इसलिए गूगल इसे भी अपने रैंकिंग फैक्टर के अन्तर्गत रखता है। वैसे आप किसी भी साइट से Pixabay.com हो या Google Image यह सभी आपको web format ही डाउनलोड करने के लिए देता है।

Image को किस तरह से ब्लॉग पोस्ट में इस्तेमाल करे, इसके लिए नीचे दिए गए पोस्ट को पढ़े।

How to Optimized Image for Fast Loading

Use of CDN

CDN का फूल फॉर्म Content Deliver Network होता है। एक अच्छा सीडीएन को इस्तेमाल करने से पेज बहुत तेजी से लोड होता है।

CDN क्या होता है इसके लिए नीचे दिए गए लिंक को विजिट करे।

https://broodhome.com/how-to-work-

cdn.html

Conclusion
आपको यह पोस्ट कैसा लगा हमे कॉमेंट कर जरूर बताए और हां इसे अपने सोशल मीडिया में शेयर करना ना भूले। इसे सब्सक्राइब भी जरूर करे।


Saroj Alam

हलो, मैं सरोज आलम, www.broodhome.com का चीफ एडिटर और फाउंडर। As a beginners मैं परेशान था, आखिर मैं किस टॉपिक पर ब्लॉग लिखूं, पर लिखते लिखते आखिर में सही जगह पहुंच ही गया। इस ब्लॉग पर में खिचड़ी नहीं परोसना चाहता हूं, इसलिए बस Blogging, Money Making आइडिया और Hosting से जुड़े पोस्ट ही पब्लिश करना पसंद करता हूं। I'm not perfect, but try to gives you best Today & Tommorow.

Sharing is caring!

%d bloggers like this: